देहरादून। उत्तराखण्ड की पहाड़ियां बर्फ से लक-दक हो गई है। सुबह-सुबह ही यह खूबसूरत नजारा देखने के लिए पर्यटकों ने भी बर्फबारी वाले क्षेत्रों में रुख किया। जगह-जगह से पर्यटकों ने बर्फबारी का आनंद लिया।

वहीं मसूरी धनोल्टी मार्ग पर एक गाड़ी खाई में गिर गई। पुलिस ने बर्फ के बावजूद रेस्क्यू ऑपरेशन किया।

मौसम विज्ञान विभाग ने उत्तरकाशी और पिथौरागढ़ में भी बर्फबारी की संभावना जताई और आज सुबह प्रदेश के कई हिस्सों में बर्फबारी का नजारा देखने को मिला।

यहां पहाड़ियां चांदी की तरह सी चमक रही हैं। भारी बर्फबारी को देख पर्यटक रोमांचित हो रहे हैं। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा।

मौसम केंद्र की रिपोर्ट के अनुसार मुक्तेश्वर में लगातार दूसरे दिन न्यूनतम तापमान 1 डिग्री दर्ज किया गया।

पंतनगर में न्यूनतम तापमान 5 डिग्री रहा। राज्य में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में भारी कमी के चलते मैदान से लेकर पहाड़ तक जबरदस्त ठंड पड़ रही है। मौसम विभाग के अनुसार अगले एक सप्ताह तक ठंड से राहत नहीं मिलने वाली है।

चमोली जिले के बदरीनाथ, हेमकुंड साहिब, फूलों की घाटी औली, जोशीमठ, रुद्रनाथ सहित ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी जारी है।

जोशीमठ

उत्तरकाशी शहर के सामने की चोटियों पर पड़ी बर्फ। तो चमोली–उखीमठ–मंडल-चोपता मोटर मार्ग बर्फबारी के कारण अवरुद्ध हो गया है। वहीं विकासनगर में लोखंडी में पर्यटक बर्फबारी का आनंद लेने पहुंचे।

चकराता त्यूनी स्टेट मार्ग पर जमी बर्फ को हटाने के लिए एन एच डोईवाला खंड ने दो जेसीबी लगाई हैं। जौनसार बावर में सीजन की दूसरी बर्फबारी हुई।

मसूरी
मसूरी

मसूरी के लालटिब्बा, धनोल्टी, बुराँशखण्डा में भी जमकर बर्फ पड़ी है। चकराता के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में हल्की बर्फबारी हुई है।

उत्तरकाशी
बर्फ से ढका मंदिर
मसूरी

मसूरी – धनोल्टी मार्ग पर कफलानी के समीप वाहन खाई में गिरा-

मसूरी – धनोल्टी मार्ग पर कफलानी के समीप एक वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो गया, स्विफ्ट कार अनियंत्रित होकर गहरी खाई में जा गिरी, कार में तीन युवक सवार थे, सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची।

पुलिस ने बर्फबारी के बावजूद तीन घायलों को खाई से निकाल कर उपचार के लिए अस्पताल भेज दिया। जानकारी के मुताबिक तीनों युवक देहरादून के एक कॉलेज छात्र हैं, छात्र मसूरी धनोल्टी घूमने के लिए निकले थे।

मसूरी

यह भी पढ़ें-

यह भी पढ़ें-

धर्म और संस्कृति