देहरादून (बड़ी खबर) दून के दो स्कूल देश में बने नंबर-1, तो टॉप-10 में 8 स्कूल :उत्तराखण्ड

Dehradun Schools, Doon School, Welham Boys, Girls

देहरादून। स्कूली शिक्षा में एजुकेशन वर्ल्ड इंडिया ने देश के टॉप स्कूलों की रैंकिग लिस्ट जारी की, टॉप टेन स्कूलों की रैंकिग लिस्ट में उत्तराखण्ड के 8 स्कूल शामिल हैं।

उत्तराखण्ड की अस्थाई राजधानी देहरादून स्कूली शिक्षा के लिए एजुकेशन हब के रूप में पूरी दुनिया में मशहूर है। देहरादून के शिक्षा संस्थानों में पढ़ने के लिए देश के अलावा विदेशों से भी छात्र बड़ी तादाद में आते हैं।

सिर्फ सिविलियन ही नहीं आर्मी की शिक्षा के शक्षणिक संस्थान देहरादून में हैं। जिसमें IMA इंडियन मिलिट्री अकादमी शामिल है। वहीं IAS की शिक्षा भी देहरादून जिले के मसूरी में लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी में ही होती है।

आपको बता दें कि देहरादून के कई स्कूलों ने एजुकेशन वर्ल्ड इंडिया की लिस्ट 2022-23 में टॉप टेन में जगह बनाकर फिर से राज्य को गौरवान्वित किया है।

एजुकेशन वर्ल्ड इंडिया ने देश के टॉप स्कूलों की रैंकिग लिस्ट जारी कर दी।

1-बोर्डिंग स्कूल की लिस्ट में देहरादून के “द दून स्कूल” तथा “वेल्हम बॉयज स्कूल” संयुक्त रूप से नंबर वन की पोजिशन पर हैं। जबकि नैनीताल का बिड़ला विद्या मंदिर स्कूल चौथे स्थान पर रहा। पिछले साल भी इस लिस्ट में द दून स्कूल टॉप पर था, जबकि वेल्हम ब्वॉयज पांचवे स्थान पर था। इस बार दोनों ही स्कूल टॉप पर रहे हैं।

2-बेटियों की शिक्षा के मामले में भी देहरादून के संस्थानों ने कई बड़ी उपलब्धियां हासिल की हैं। देहरादून के शैक्षणिक संस्थान छात्राओँ के लिए सुरक्षित संस्थान बनकर उभरे हैं। गर्ल्स बोर्डिंग स्कूल की जो लिस्ट है, उसमें टॉप 10 में से छह गर्ल्स बोर्डिंग स्कूल देहरादून के ही हैं। वेल्हम गर्ल्स स्कूल ने टॉप टेन लिस्ट में दूसरे स्थान पर जगह बनाई है। जबकि ग्लोबल इंटरनेशनल स्कूल तीसरे नंबर पर है। इसी तरह होप टाउन गर्ल्स स्कूल चौथा स्थान हासिल करने में सफल रहा है। वेंटेज हॉल रेजिडेंशियल स्कूल इस लिस्ट में 8वें स्थान पर है। जबकि शिगली गर्ल्स स्कूल 10वें स्थान पर रहा।

3-एजुकेशन वर्ल्ड इंडिया 2022-23 सह बोर्डिंग स्कूलों की लिस्ट भी जारी करता है। इसमें सेलाकुई इंटरनेशनल स्कूल ने चौथा स्थान हासिल किया है।

एजुकेशन वर्ल्ड इंडिया 2022-23 की रैंकिंग में उत्तराखण्ड के शैक्षणिक संस्थानों का जबरदस्त दबदबा रहा, जो कि पूरे उत्तराखण्ड वासियों के लिए अभूतपूर्व गर्व की बात है।

यह भी पढ़ें-

यह भी पढ़ें-

धर्म और संस्कृति