देहरादून: आज से सिंगल यूज प्लास्टिक पूरी तरह बैन, पकड़े जाने पर 5000 तक जुर्माना :उत्तराखण्ड

Dehradun, उत्तराखण्ड में आज एक जुलाई से सिंगल यूज प्लास्टिक पर पूरी तरह रोक लग गयी है। शहरी विकास विभाग ने सभी निकायों को 28 जून तक खुद को सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त घोषित करने को कहा था। आज से प्लास्टिक का उपयोग करने पर पांच हजार रुपये तक जुर्माना वसूला जाएगा।

जानिए इन सामानों पर रहेगी रोक।

उत्तराखण्ड के प्रमुख सचिव वन एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष आरके सुधांशु ने बताया कि जांच और जुर्माना तय करने के लिए अधिकारी भी तय कर दिए गए हैं।

उत्तराखंड में आज से सिंगल यूज प्लास्टिक (Single use plastic) पर पूरी तरह से प्रतिबंध लग गया है। आज से ही व्यक्तिगत उपयोग के लिए एकल-उपयोग प्लास्टिक उत्पादों का निर्माण करने वालों पर 100 रुपये से 5 लाख रुपये तक का जुर्माना लगाया जाएगा।

प्लास्टिक के इस्तेमाल करने वालों पर जुर्माना लगाया जाएगा। उत्तराखण्ड Uttarakhand सरकार ने कहा कि एक बार जुर्माना लगने के बाद अगर कोई दूसरी बार पकड़ा जाता है तो जुर्माने की राशि दोगुनी होगी।

राज्य के प्रमुख सचिव वन एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष आरके सुधांशु ने बताया कि जांच और जुर्माना तय करने के लिए अधिकारी भी तय कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने सभी से अपील की कि कपड़े के थैलों का इस्तेमाल घरेलू सामान ले जाने के लिए करें। अगर वह ऐसा करते हैं तो इससे प्लास्टिक की खपत कम होगी और पॉलीथिन के बैग के उत्पादन नहीं होगा। उन्होंने कहा किरोजमर्रा की जिंदगी में पर्यावरण के अनुकूल सामग्री से बनी वस्तुओं का ही उपयोग करें। वहीं राज्य सरकार ने आज से सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ अभियान चलाते हुए सभी निकायों को चालान करने को कहा है।

राज्य के प्रभारी निदेशक नगर विकास अशोक पांडेय ने बताया कि सभी निकायों को प्रतिबंध का पालन करने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं निदेशक पंचायती राज बंशीधर तिवारी ने भी सभी जिला पंचायतों को सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाने के लिए प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि कुछ निकायों में पहले से ही इस पर बैन लगा हुआ था और बाकी बचे निकायों में 28 जून तक इसे लागू कर दिया गया है। राज्य के सभी निकायों में अब सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लग गया है।

केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय पिछले साल ही एक जुलाई 2022 से सिंगल यूज प्लास्टिक के उत्पादन, आयात, भंडारण, बिक्री और इस्तेमाल पर रोक लगा चुका है। राज्य के 66 निकाय सिंगल यूज प्लास्टिक पर रोक की घोषणा कर चुके थे । शेष निकायों को 28 जून तक ऐसा करने को कहा गया था।

इन सामानों पर रहेगी रोक-

ईयर बड्स, प्लास्टिक के झंडे, कैंडी स्टिक, आइसक्रीम की डंडिया, थर्मोकोल की सजावट सामग्री, कप, प्लेट, गिलास, कांटे, चम्मच, चाकू, स्ट्रां, ट्रे, मिठाई के डिब्बे की पैकेजिंग में यूज होने वाली फिल्म, सिगरेट पैकेट, 100 माइक्रोन से कम मोटाई वाले प्लास्टिक बैनर, 75 माइक्रोन से पतली कैरीबैग।

*यह भी पढ़ें-*

*यह भी पढ़ें-*

*यह भी पढ़ें-*

धर्म और संस्कृति