the95news

देहरादून: नारी निकेतन से अस्पताल लाई गई लड़की गायब, प्रशासन पर उठे सवाल

देहरादून। उत्तराखण्ड से आज की सबसे बड़ी खबर सामने आ रही है, यहां बिना पुलिस सुरक्षा के बालिका निकेतन से अस्पताल लाई गई एक लड़की लापता हो गई।

प्रकरण में देहरादून के डालनवाला थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक लड़की मूल रूप से बागपत, उत्तर प्रदेश की है, उसके खिलाफ वहां भी गुमशुदगी की पूर्व में एक रिपोर्ट दर्ज है। रेलवे चाइल्ड हेल्प लाइन सदस्य वर्षा भारद्वाज बालिका निकेतन केदारपुरम में भर्ती 17 वर्षीय एक लड़की को लेकर कोरोनेशन अस्पताल मेडिकल कराने के लिए पहुंची थी।

वर्षा भारद्वाज ने ही लड़की को लाइन में लगा कर खुद डॉक्टर से मेडिकल से जुड़ी बात करने लगी, जब वह लोटी तो लड़की गायब हो चुकी थी।

अस्पताल में ढूंढने और सीसीटीवी फुटेज खंगालने के बाद भी लड़की का कुछ पता नहीं चला, जिसके बाद रेलवे चाइल्ड हेल्पलाइन के परियोजना समन्वयक रामपाल सिंह ने डालनवाला थाने में तहरीर दी जिसके आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया।

यहां आपको बता दें कि जब किसी की मेडिकल प्रक्रिया होनी होती है, तो उसके लिए पुलिस सुरक्षा का इंतजाम भी किया जाता है। लेकिन यहां बिना सुरक्षा के ही लड़की को बालिका निकेतन से अस्पताल भेज दिया जाता है।

पूरे मामले में अब सवाल यह भी खड़ा होता है कि क्या किसी की मिलीभगत के चलते तो लड़की गायब नहीं हुई!!! आपको बता दें कि पूर्व में भी नारी निकेतन में कई मामले सामने आ चुके हैं।

*यह भी पढ़ें-*

धर्म और संस्कृति