इंग्लैंड काउंटी क्रिकेट में उत्तराखंडी मयंक मिश्रा का धमाल, तीन मैचों में झटके 13 विकेट, 2 मैच में 5-5 विकेट, 37 में से 12 ओवर मेडेन

उत्तराखण्ड के मयंक मिश्रा इंग्लैंड की काउंटी क्रिकेट में ड्रिफील्ड टाउन क्रिकेट क्लब की ओर से खेलते हुए अपनी फिरकी का कहर बरपा रहे हैं। मयंक ने ड्रिफील्ड टाउन क्रिकेट क्लब की ओर से खेलते हुए 3 मैचों में 13 विकेट झटके।

उत्तराखण्ड के युवा क्रिकेटर आजकल धमाल मचाए हुए हैं। इनमें लेफ्ट आर्म स्पिन गेंदबाज मयंक मिश्रा, ऋषभ पंत, आयुष बडोनी, अनुज रावत और मनीष पांडे का नाम शामिल है।

मयंक मिश्रा के अलावा जबकि उत्तराखण्ड क्रिकेट टीम के कप्तान जय बिस्टा व आलराउंडर दीक्षांशु नेगी भी इंग्लैंड में काउंटी में खेल रहे हैं।

उत्तराखंड के युवा आलराउंडर, लेफ्ट आर्म स्पिनर मयंक मिश्रा ने तीन मैचों की तीन पारियों में 13 विकेट झटके हैं। इसमें मयंक मिश्रा ने दो बार पांच-पांच विकेट झटके है।

इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड की ओर से आयोजित होने वाली काउंटी चैंपियनशिप 2022 में क्रिकेट एसोसिएशन आफ उत्तराखण्ड (सीएयू) के फिरकी गेंदबाज मयंक मिश्रा ने काउंटी क्रिकेट खेलने के लिए सीएयू से एनओसी मांगी थी। हल्द्वानी निवासी मयंक मिश्रा ड्रिफील्ड टाउन क्रिकेट क्लब की ओर से खेलते हुए अपनी फिरकी का कहर बरपा रहे हैं।

 
मयंक ने ड्रिफील्ड टाउन क्रिकेट क्लब की ओर से खेलते हुए तीन मैचों की तीन पारियों में 13 विकेट झटके, दो बार पारी में पांच विकेट लेने का कारनामा किया, जबकि 37 ओवर गेंदबाजी की जिसमें उन्होंने 12 ओवर मेडन डालते हुए 13 विकेट लेकर 54 रन दिए हैं। काउंटी में मयंक मिश्रा की इकोनामी 1.46 रही है।

मयंक मिश्रा ने बल्लेबाजी में भी दमखम दिखाया, बल्लेबाजी में भी शानदार प्रदर्शन करते हुए मयंक मिश्रा ने 17.08 के औसत से 54 रन की अद्र्धशतक पारी खेली है। मयंक मिश्रा के अलावा अन्य दो खिलाड़ी भी काउंटी क्रिकेट में हिस्सा ले रहें हैं। सीएयू के कप्तान जय बिस्टा व आलराउंडर दीक्षांशु नेगी काउंटी में खेल रहे हैं।

हल्द्वानी निवासी आलराउंडर दीक्षांशु नेगी हिल्टन कोलियरी क्रिकेट क्लब के लिए खेल रहे हैं। वहीं, मूल रूप से मुंबई निवासी और उत्तराखंड टीम में बतौर गेस्ट प्लेयर शामिल जय बिस्टा कोरनवुड क्रिकेट क्लब से खेल रहे हैं। तीनों खिलाडिय़ों को मई के अंतिम सप्ताह तक सीएयू खेमे से जुड़ना है।

लखनऊ सुपर जायंट्स टीम से खेल रहे हैं टिहरी गढ़वाल के आयुष बडोनी-

आयुष बडोनी मूल रूप से नई टिहरी के सिलोड़ी गांव के रहने वाले हैं। वह आइपीएल 2022 में लखनऊ सुपर जायंट्स टीम से खेल रहे हैं। उन्‍होंने सात साल की उम्र से दिल्ली के सानेट क्लब में तारक सिन्हा और देवेंद्र शर्मा से क्रिकेट की कोचिंग लेनी शुरू की थी। आयुष की स्कूलिंग दिल्ली के माडर्न स्कूल से हुई है। आइपीएल 2022 में डीवाई पाटिल स्टेडियम में लखनऊ सुपर जायंट्स ने दिल्ली कैपिटल्स को छह विकेट से हराया था। इस दौरान आयुष बडोनी ने सिर्फ तीन गेंद की पारी में ही महफिल लूट ली थी। बडोनी ने फैंस को धोनी और विराट कोहली की याद दिला दी थी।

उभरते क्रिकेटर अनुज रावत खेल रहे आरसीबी से-

रामनगर के क्रिकेटर अनुज रावत आइपीएल 2022 में इस बार रायल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) की ओर से खेल रहे हैं। अनुज को आइपीएल के मेगा आक्शन में 3.40 करोड़ रुपये में खरीदा गया है। अनुज रावत 2012 से दिल्ली की टीम के अलावा रणजी मैच खेल चुके हैं। आइपीएल 2022 में रायल चैलेंजर्स बेंगलुरु की टीम ने मुंबई इंडियंस को सात विकेट से हराया था। इस जीत में बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज अनुज रावत ने अहम भूमिका निभाई थी। रावत ने 47 गेंद पर 66 रन की पारी खेली थी, जिसमें दो चौके और छह छक्के लगाए थे।

केकेआर से खेल रहे मनीष पांडे

बागेश्वर के भीड़ी गांव निवासी भारतीय क्रिकेटर मनीष पांडे आइपीएल 2022 में केकेआर की टीम से खेल रहे हैं। वह टीम इंडिया के लिए अब तक 23 वनडे मैच खेल चुके हैं। जिसमें उन्होंने 36.66 की औसत से 440 रन बनाए हैं। उनका बेस्ट स्कोर नाबाद 104 रन है। वह वनडे में एक शतक लगा चुके है।

दिल्‍ली कैपिटल्‍स के कप्‍तान ऋ‍षभ पंत

उत्तराखण्ड के हरफनमौला बाएं हाथ के बल्लेबाज ऋ‍षभ पंत ने इंडियन प्रीमियर लीग के मौजूदा सीजन में अब तक 11 मैचों में 152.71 के स्ट्राइक रेट से 281 रन बनाए हैं। ऋ‍षभ पंत दिल्‍ली कैपिटल्‍स के कप्‍तान हैं। बेहद कम वक्त में टीम इंडिया में उन्‍होंने अपनी जगह अपने प्रदर्शन के दम पर पुख्ता कर ली और वो बेहद सफल हैं। वह 2016 के अंडर 19 विश्‍व कप में भारतीय टीम के वाइस कैप्‍टन रह चुके हैं। उन्‍होंने 2018 में अंतरराष्‍ट्रीय टी 20 क्रिकेट से डेब्‍यू किया था। इन्‍हें आइसीसी मेन इमर्जींग क्रिकेटर आफ द ईयर 2018 और आइसीसी प्‍लेयर आफ द मैच 2021 से नवाजा जा चुका है।

यह भी पढ़ें-

यह भी पढ़ें-

धर्म और संस्कृति