the95news

चारधाम यात्रा मार्ग पर अबतक 28 श्रद्धालुओं की मौत, कुण्ड – ऊखीमठ मार्ग पर भूस्खलन, पुलिस ने जारी की एडवाइजरी

Traffic Advisory by Uttarakhand Police-

कुण्ड से ऊखीमठ को जोड़ने वाला मार्ग संसारी की पास टूट गया है, जिससे यातायात पूर्ण रूप से प्रतिबंधित है। बद्रीनाथ धाम व चोपता तुंगनाथ की ओर जाना चाहते हैं, तो NH गुप्तकाशी-रुद्रप्रयाग-कर्णप्रयाग-चमोली मार्ग का प्रयोग करें।

वहीं, चार धाम यात्रा के लिए आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है, मात्र 10 दिनों में श्रद्धालुओं की संख्या 2लाख 61 हजार के पार पहुँच गयी है। 

वहीं यात्रा के दौरान मरने वाले श्रद्धालुओं की बात करे तो कल शाम तक 27 श्रद्धालुओं की मौत हो चुकी है, जबकि 1 श्रद्धालु की आज सुबह केदारनाथ में मौत की सूचना है।

इस सम्बन्ध में स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ शैलजा भट्ट ने जानकारी देते हुए बताया अभी तक सभी धामों में जो मौते हुई है, उनमें से एक भी मौत हमारे स्वास्थ्य केन्द्रों में नही हुई है। जो भी मौतें हुई है यात्रा मार्ग के बीच मे ही हुई है या हेलीकॉप्टर से उतरते ही हुई इसलिए इन मौतों की जिम्मीदरी हेल्थ विभाग की नही है।

साथ ही स्वास्थ्य महानिदेशक भट्ट ने जानकारी देते हुए बताया स्वस्थ्य विभाग की ओर से सभी आवश्यक कदम उठाए गए है यात्रा रूट पर हेल्थ पोस्ट बनाई गई है और स्टाफ की तैनाती की गई है। जिसमें 133 सामान्य चिकित्सक, 24 फिजिशियन, 12 हड्डी रोग विशेषज्ञ व 65 फार्मशिस्ट की नियुक्ति की गई है। इन सभी की चारोधामो में 15 दिनों के रोस्टर में डियूटी लगाई गई है इसके साथ ही सभी जगह अतिरिक्त एम्बुलेंस भी तैनात की गई है।

*यह भी पढ़ें-*

धर्म और संस्कृति