कन्या राशि: प्रेम, व्यक्तिगत सम्बन्ध, कैरियर, स्वास्थ जुलाई का मासिक राशिफल

स्वास्थ्य: स्वास्थ्य के लिहाज से यह महीना अधिक अनुकूल दिखाई नहीं देता है और इसकी वजह है आपके राशि स्वामी का राहु और सूर्य के साथ पीड़ित होना तथा साथ में मंगल की उस पर दृष्टि होना। इसके अतिरिक्त आपके लिए काम के प्रति अत्यधिक व्यस्तता आपको थकान से भी भर देगी, जिससे आपको स्वास्थ्य कष्ट हो सकते हैं। इसलिए भरपूर मात्रा में नींद लेना आपके लिए बेहतर रहेगा, क्योंकि इसी से आप एनर्जी प्राप्त कर पाएंगे। इसके अतिरिक्त आपको इस दौरान सप्तम भाव में बैठे मंगल से सावधान रहना होगा, जो किसी प्रकार की चोट अथवा दुर्घटना का कारण बन सकता है। इसलिए वाहन सावधानी पूर्वक चलाएँ और भरपूर मात्रा में नींद और आराम करें, तभी आप कुछ अच्छे स्वास्थ्य की उम्मीद कर सकते हैं। हालांकि महीने के उत्तरार्ध में जब सूर्य आपके 11 वें भाव में प्रवेश करेगा, उस दौरान स्वास्थ्य में कुछ सुधार होने की संभावना बनेगी।

कैरियर: करियर की बात करें तो जहां दशम भाव में बैठा हुआ सूर्य दिग्बल से युक्त होने के कारण आपको कार्यक्षेत्र में सफलता देगा, वहीं उसके साथ बैठा उच्च का राहु दिक्कतें उत्पन्न करेगा और आप के खिलाफ मानहानि की संभावनाओं को बढ़ाएगा। अर्थात आप जो कार्य करना चाहेंगे, संभव है उसमें आपको अपने साथियों या वरिष्ठ अधिकारी व सहयोग ना मिले, जिसकी वजह से आपको निराश होना पड़े, लेकिन महीने के उत्तरार्ध में जब 16 तारीख को सूर्य का गोचर आपके एकादश भाव में होगा, तो आपको बेहतर नतीजे मिलेंगे और आप के वरिष्ठ अधिकारी भी आप के पक्ष में खड़े दिखाई देंगे। इस दौरान सरकारी क्षेत्र से भी अच्छा लाभ मिल सकता है और आपकी योजनाएं आपकी पदोन्नति का कारण बन सकती हैं। आपकी पदोन्नति भले ही अभी ना हो, लेकिन आपको उसका लाभ मिलना अवश्य ही शुरू हो जाएगा। आप अपने काम के प्रति समर्पित रहेंगे और आपकी निष्ठा आप के भले का कारण बनेगी। हालांकि कर्म भाव से अष्टम भाव में शनि का गोचर आपको नौकरी बदलने की ओर प्रेरित भी कर सकता है। यदि आप व्यापार करते हैं, तो परिणाम आशा जनक मिलेंगे और आप अपने काम को जारी रख सकते हैं।

प्रेम / विवाह / व्यक्तिगत संबंध: प्रेम संबंधित मामलों के लिए शनि देव का अपनी ही राशि में पंचम भाव में बैठना अच्छे परिणाम दे सकता है, क्योंकि जहां शनि आपको प्रेम में या किसी भी क्षेत्र में परीक्षा लेकर आपको कसौटी पर कसता है, वहीं आपको स्थाई रूप से परिणाम प्रदान करता है। इसलिए यदि आप अपने प्रियतम से सच्चे हृदय से प्रेम करते हैं, तो यही शनिदेव आपकी मदद करेंगे और आपके प्रेम जीवन में मजबूती लेकर आएँगे। नवम भाव में बैठे शुक्र देव भी आपके मन को प्यार से भर देंगे और आपका प्रियतम भी आपसे अपने प्रेम का इज़हार करेगा, जिससे महीना हंसते खेलते व्यतीत हो जाएगा और आपको इस दौरान अपने जीवन में अपने प्रियतम की महत्व का भी पता चलेगा तथा आपसी समझ बूझ के कारण आप अपने भविष्य की योजनाएं बनाएँगे। कुछ लोग प्रेम विवाह के लिए आगे बढ़ सकते हैं। हालांकि थोड़ी चुनौतियाँ अवश्य आएँगी, लेकिन इस मामले में उनको सफलता प्राप्त हो सकती है। यदि आप शादीशुदा हैं, तो पूर्व में चली आ रही समस्याओं से अब निजात मिलनी प्रारंभ हो जाएगी और आपका जीवन साथी परिवार के प्रति ध्यान अधिक देगा, जिससे कि आपको प्रसन्नता होगी, क्योंकि वह आपके परिवार को अपने परिवार के समान महत्व देंगे। इससे आपके बीच रिश्ते में चली आ रही समस्याएं धीरे-धीरे दूर होने लगेंगी और दांपत्य जीवन मधुर बनेगा, लेकिन मंगल की स्थिति सप्तम भाव में होने और उस पर शनि की दृष्टि होने के कारण किसी न किसी वजह से तनाव बना रह सकता है। इसलिए ज्यादा खींचातानी किसी भी बात को लेकर ना करें और स्थिति को ईश्वर पर छोड़ कर अपनी ओर से प्रयास करें।

सलाह: उपाय के तौर पर इस महीने आपको बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए और साथ ही साथ दुर्गा चालीसा का नियमित रूप से पाठ करना भी आपके लिए लाभदायक रहेगा। इसके अतिरिक्त बुधवार के दिन आपको गौमाता को हरी मूंग की दाल खिलानी चाहिए तथा बृहस्पतिवार के दिन पीपल वृक्ष को जल देकर सिंचित करना चाहिए। आप चाहें तो आप उत्तम गुणवत्ता वाला पन्ना रत्न धारण कर सकते हैं, जिससे आपका स्वास्थ्य भी बेहतर बनेगा और कार्यक्षेत्र में भी अच्छे परिणामों की प्राप्ति होगी।

सामान्य: कन्या राशि के जातकों को इस महीने अपने काम पर फोकस करने के साथ-साथ स्वास्थ्य पर भी फोकस करना चाहिए और पारिवारिक जीवन तथा दांपत्य जीवन की चुनौतियों से पार पाने का प्रयास करना चाहिए, क्योंकि यही वे क्षेत्र हैं, जिनमें उन्हें कुछ समस्याएं दिखाई देंगी। इस महीने भाग्य आपके साथ रहेगा और आप जिस कार्य को भी करना चाहेंगे, उसमें आप सफलता अर्जित करेंगे। आपके मान और सम्मान में वृद्धि होगी तथा किसी अच्छे और रमणीक स्थल पर यात्रा करने के मौके प्राप्त होंगे। इस दौरान आपके पिताजी का व्यवहार काफी अनुकूल होगा और आप उनके निकट आएँगे। हालांकि जीवनसाथी का व्यवहार आपको थोड़ा सा परेशान कर सकता है। संतान इस दौरान काफी भावुक और समझदार प्रतीत होगी, जिससे आपको उनके बड़े होने का एहसास होगा। कुल मिलाकर जुलाई का महीना आपके लिए सामान्य रहेगा।

वित्त: आर्थिक नज़रिए से देखने पर पता चलता है कि व्यापार के मामले में आपको काफी बेहतर परिणाम मिलेंगे और आपके व्यापार से आप काफी हद तक आर्थिक स्थिति को बेहतर बना पाएंगे। आपके खर्चे भी नियंत्रण में रहेंगे और विदेशी स्रोतों तथा एमएनसी में कार्य करने वाले लोगों को जबरदस्त मुनाफ़ा हो सकता है। इसके अतिरिक्त जो लोग सरकारी क्षेत्र से जुड़कर काम करते हैं, उन्हें अपने कार्य में अच्छा कमीशन प्राप्त हो सकता है। वहीं नवम भाव में बैठे शुक्र देव की कृपा और पंचम भाव में बैठे शनिदेव दोनों ही आपकी आमदनी को बढ़ाने का प्रयास करेंगे। साथ ही महीने के उत्तरार्ध में जैसे ही सूर्य का गोचर 11 वें भाव में होगा, आमदनी में जबरदस्त वृद्धि देखने को मिल सकती है। इस प्रकार कुछ छोटी-मोटी परेशानियों के बावजूद आपकी आर्थिक स्थिति इस महीने बेहतर रहेगी और खर्चे भी नियंत्रण में रहेंगे, जिससे आप सुख की सांस ले सकते हैं।

पारिवारिक दोस्त: पारिवारिक दृष्टिकोण से यह महीना उथल पुथल से भरा रह सकता है। परिवार के वृद्धजनों का स्वास्थ्य कमजोर हो सकता है, जिसकी वजह से उनके स्वास्थ्य पर खर्च करने की नौबत आ सकती है। इसके अतिरिक्त परिवार में कोई धार्मिक कार्य संपादित किया जा सकता है तथा परिवार के लोग किसी तीर्थ यात्रा पर भी इस दौरान साथ में जा सकते हैं। इसके अतिरिक्त यदि आपके परिवार में कोई बड़ी समस्या चल रही है, तो आपको इस दौरान पितृदोष शांति हवन कराना चाहिए, जिससे परिवार में सुख शांति की वृद्धि हो। कुटुंब के लोग आपके प्रति स्नेह का भाव रखेंगे, जिससे आपका मन प्रसन्न होगा। हालांकि जीवनसाथी के कारण आपके कुटुंब के लोगों को किसी प्रकार का दुख पहुंच सकता है, जिसका असर उनके स्वभाव पर पड़ेगा और वे आपसे कुछ कटे कटे से रह सकते हैं। इस सबके बावजूद भी आपको अपने प्रिय जनों का प्रेम मिलता रहेगा।

धर्म और संस्कृति