श्रीनगर में गंगा आरती की 10वीं वर्षगांठ पर निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर आयोजन में सैकड़ो मरीजों की स्वास्थ्य जांच

श्रीनगर। पौड़ी गढ़वाल जनपद के श्रीनगर शहर में आज गंगा आरती की 10वीं वर्षगांठ पर गंगा आरती समिति श्रीनगर गढ़वाल एवं रोटरी क्लब श्रीनगर के संयुक्त प्रयास से निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। स्वास्थ्य शिविर में उत्तराखंड के जाने माने बरिष्ठ फिजिशियन डाॅ एस डी जोशी और सुप्रसिद्व डाॅ गोविन्द पुजारी ने मरीजों की जांच की। इस मौके पर बड़ी संख्या में दूर दराज से पहुंचे मरीजों ने अपने स्वास्थ्य की जांच कराई।

स्वास्थ्य जांच का दूर दराज से पहुंचे मरीज-

श्रीनगर पहुँचे पर डाॅ एसडी जोशी और डाॅ गोबिंद पुजारी का समिति की ओर से भव्य स्वास्गत किया गया। फूल मालाओं और ढोल दमाऊ के साथ मौजूद लोग दोनों डाॅक्टरों को कार्यक्रम स्थल तक ले गये। इस दौरान बड़ी संख्या में स्थानीय लोग मौजूद थे। उसके उपरांत दोनों डाॅक्टरों ने निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का शुभारंभ किया।

निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का शुभारंभ गंगा आरती-

समिति श्रीनगर गढ़वाल एवं रोटरी क्लब द्वारा आयोजित स्वास्थ्य शिविर में दूर-दराज से आने वाले मरीजों का डॉक्टर एसडी जोशी और डाॅ गोबिंद पुजारी ने निशुल्क इलाज कर दवाईयां दी। शिविर में पहुंचे अधिकांश लोगों में कैल्शियम की कमी पाई गई। शिविर में हृदय रोग, दमा रोगी, बाल रोगी, उदररोग, सबंधी बीमारी के लोग बड़ी संख्या में पहुंचे।

पहाड़ो के प्रति सर्मपित डाॅ एसडी जोशी-

डॉ. एसडी जोशी ने कहा कि लोगों की सुविधा के लिए लगाये जाने वाले स्वास्थ्य शिविरों से जनता को राहत मिलती है। उन्होंने कहा कि वह लोग जो महंगी दवाईयां नहीं खरीद सकते, जांचें नहीं करा सकते, उन्हें ऐसे शिविरों से लाभ मिलता है। उन्होंने शिविर लगाये जाने पर गंगा आरती समिति श्रीनगर गढ़वाल एवं रोटरी क्लब श्रीनगर का धन्यवाद अदा किया। डाॅ एसडी जोशी ने कहा कि वह समय-समय पर पहाड़ों में जनता के लिये निशुल्क सेवाएं देते रहेंगे।

डाॅ पुजारी ने कहा ठंड में बच्चों का रखें खास ख्याल-

स्वास्थ्य शिविर में पहुंचे उत्तराखंड के जाने-माने बाल रोग विशेषज्ञ डाॅ गोविंद पुजारी ने जांच के साथ ही बच्चों के परिजनों को जरूरी सलाह भी दी। डाॅ पुजारी ने कहा कि सर्दियों का मौसम आते ही बच्चे सर्दी, जुकाम, गले में इंफेक्शन, अस्थमा, आंखों मेंइंफेक्शन, त्वचा में लाल दाने, निमोनिया जैसी बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता काफी कम होती है, इसलिए ये जल्द ही इन बीमारियों का शिकार हो जाते हैं। सर्दी-जुकाम हो तो बच्चे को 5 मिनट के लिए दिन में 2-3 बार स्टीम दें। सर्दी-जुकाम होने पर बच्चे को पानी और तरल चीजें देना जारी रखें, लेकिन ये थोड़े गुनगुने होने चाहिए, फिर चाहे दूध हो या पानी। सर्दियों में लोग बच्चों को पानी कम देते हैं, जो सही नहीं है। बच्चे की तबीयत ठीक है, तो सादा वरना हल्का गुनगुना पानी थोड़ी-थोड़ी देर में दें। बच्चे को अच्छी तरह ढककर रखें।

क्या कहा संयोजक नरेश नौटियाल ने-

कार्ययक्रम के संयोजक नरेश नौटियाल ने बताया कि गंगा आरती की 10 वीं वर्षगांठ पर इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। मैडिकल हैल्थ कैंप के बाद देर शाम गंगा आरती का भव्य कार्यक्रम आयेाजित होगा। कैंप में दी जाने वाली सभी दवाईयों की व्यवस्था रोटरी क्लब श्रीनगर द्वारा की गई है। यह मरीजों को निशुल्क वितरित की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि गौ समिति के संस्थापक व गंगा आरती समिति श्रीगर के अध्यक्ष प्रेमबल्लब नैनाथी के प्रयासों से ही यह सब कार्यक्रम सालों से चलता आ रहा है। और आगे भी निरंतर जारी रहेगा। इस मौके पर रोटरी क्लब श्रीगर के अध्यक्ष नवल किशोर जोशी, नरेश नौटियाल, राणा जी, सहित समिति के पदाधिकारी, कार्यकर्ता व गणमान्य लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

धर्म और संस्कृति