AIIMS ऋषिकेश में 4 दिवसीय मानसिक स्वास्थ्य प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत चार दिवसीय प्रशिक्षण विधिवत शुरू हो गया। मानसिक स्वास्थ्य को लेकर काउंसलर प्रशिक्षण कार्यक्रम में विशेषज्ञों ने प्रतिभागियों को मानसिक विकारों के कारकों से अवगत कराया और इसके निवारण के तौर तरीके बताए।


सोमवार को एम्स के मनोचिकित्सा विभाग एवं सेंटर ऑफ एक्सीलेंस फॉर नर्सिंग एजुकेशन एंड रिसर्च कॉलेज ऑफ नर्सिंग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित चार दिवसीय मानसिक स्वास्थ्य देखभाल, क्षमता निर्माण प्रशिक्षण कार्यक्रम का बतौर मुख्य अतिथि एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने विधिवत शुभारंभ किया। इस अवसर पर निदेशक एम्स प्रो. रवि कांत ने मानसिक विकारों के प्रति जनजागरुकता की जरुरत बताई और इसके कारणों पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि एम्स ऋषिकेश में सभी प्रकार के मानसिक रोगों के उपचार की सुविधा उपलब्ध है,जिसका विकारग्रस्त रोगी लाभ उठा रहे हैं। साथ ही मानसिक रोगों पर अनुसंधान की जरुरत पर जोर दिया। जिससे समाज को ऐसे रोगों से बचाव में सहायता मिल सके।
एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो. रवि कांत ने बताया कि संस्थान मरीजों को विश्वस्तरीय स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने को प्रतिबद्ध है और इस दिशा में सततरूप से कार्य हो रहा है,जिससे मरीजों को किसी भी तरह के उपचार के लिए उत्तराखंड से अन्यत्र महानगरों में नहीं जाना पड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

धर्म और संस्कृति