The95news गैरसैंण बनी उत्तराखण्ड राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गैरसैंण में बजट सत्र-2020-21 के बाद कि घोषणा The95news ऑनलाइन ठगी कैसे होती है जानें, पढ़ें और बचें The95news दिल्ली हिंसा: टिहरी के विनोद प्रसाद ममगाईं की चाकुओं से गोद कर हत्या, हाथ काटे, पौड़ी के दिलवर सिंह नेगी की भी हुई थी ऐसे ही हत्या The95news गैरसैंण बनी उत्तराखण्ड राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गैरसैंण में बजट सत्र-2020-21 के बाद कि घोषणा The95news देहरादून: शाहीन बाग का धरना 13 से फिर होगा शुरू, फिलहाल स्थगित The95news
Breaking News

AIIMS ऋषिकेश में महिलाओं को महावारी के प्रति किया जागरूक

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में मंगलवार को वर्ल्ड मेन्सट्रुवल हाईजीन- डे मनाया गया। इस अवसर पर इट्स टाइम फॉर एक्शन थीम पर श्रमिक महिलाओं, महिला रोगियों व उनके तीमारदारों को माहवारी के समय महिलाओं की समस्याओं के प्रति जागरुक किया गया और समाधान बताए गए। 

मंगलवार को एम्स ऋषिकेश व लायंस क्लब ऋषिकेश रॉयल के संयुक्त तत्वावधान में वर्ल्ड मेन्सट्रुवल हाईजीन दिवस पर एम्स परिसर में निर्माण स्थल पर कार्य में जुटी महिला श्रमिकों व गाइनी ओपीडी में मौजूद महिला मरीजों, उनके तीमारदारों को पीरियड्स के दौरान महिलाओं को होने वाली समस्याओं से निपटने की जानकारी दी गई। साथ ही महिलाओं को अपनी समस्याओं के समाधान को खुलकर आगे आने के लिए प्रेरित किया गया।

इस अवसर पर अपने संदेश में एम्स निदेशक पद्मश्री प्राेफेसर रवि कांत ने बताया ​कि स्वस्थ एवं निरोगी रहने के लिए महिलाओं में व्यक्तिगत स्वच्छता के प्रति जागरुकता जरुरी है। उन्होंने वर्ल्ड मेन्सट्रुवल हाईजीन डे को लेकर लायंस क्लब ऋषिकेश रॉयल द्वारा की गई इस पहल की सराहना भी की। एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो. रवि कांत ने स्वच्छता से जुड़े कार्यक्रमों में निरंतरता लाने पर जोर दिया, कहा ​कि सतत प्रयासों से ही इस विषय पर समाज को जागरुक किया जा सकता है। 

कार्यक्रम में मिसेज इंडिया वर्ल्ड वाइड-2019 के लिए चयनित फाइनलिस्ट गंगा​ विहार ऋषिकेश निवासी स्वाति टुटेजा बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुईं। इस अवसर पर मेडिकल सुपरिटेंडेंट प्रो.मनोज गुप्ता, गाइनी विभाग की डा.राजलक्ष्मी,अस्पताल प्रशासन से सहायक आचार्य डा. अनुभा अग्रवाल,डा.रश्मि, डा.शिल्पा ने महिलाओं को इस कार्यक्रम का महत्व बताया।

साथ ही बताया कि महिलाओं द्वारा व्यक्तिगत स्वच्छता पर ध्यान नहीं दिए जाने से उन्हें किस तरह की बीमारियों से ग्रसित होना पड़ सकता है। उन्होंने महिलाओं को माहवारी से जुड़ी तमाम तरह की भ्रांतियों को आधारहीन बताया। उन्होंने बताया कि महिलाओं को पीरियड्स के दौरान सामान्य कपड़े का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए,

About admin

Check Also

200 कोरोना संक्रमित हुए ठीक, अबतक 6 की मौत, आंकड़ा पहुंचा 929 Coronavirus Update Uttarakhand

1,061 देहरादून। Uttarakhand Health Bulletin 2:00 Pm के अनुसार उत्तराखण्ड में 200 कोरोना संक्रमितों को …